दीनदयाल विकलांग पुनर्वास योजना | Deendayal Viklang Punarvas Yojana in Hindi

Sponsored

Deendayal Upadhyay Disabled Rehabilitation Scheme

प्रस्तावना: दीनदयाल विकलांग पुनर्वास योजना (DDRS) विकलांगो को समान अवसर, समानता, सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण को सुनिश्चित करने के लिए सुगम वातावरण सृजित करना है। अभी भी देश में बहुत से ऐसे जिले हैं, जहां विकलांग व्यक्तियों के पुनर्वास के लिए किसी प्रकार की कोई बुनियादी सुविधा उपलब्ध नहीं हैं। मंत्रालय द्वारा देश के सभी जिलों में आधारभूत स्तर पर विकलांग व्यक्तियों को व्यापक सुविधाएँ उपलब्ध करने के लिए, जिला स्तर पर विकलांग पुनर्वास केंद्र की स्थापना के माध्यम से जागरूकता अभियान, सामाजिक कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण, मार्गदर्शन की सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।

Sponsored

दीनदयाल उपाध्याय योजना के उद्देश्य

  • विकलांगता की रोकथाम।
  • विकलांगता का शीघ्र पता लगाना।
  • आपदा ग्रस्त क्षेत्र का पुनर्वास करना।
  • उपचारात्मक सेवाएं, भौतिक चिकित्सा (फिजियोथेरपी) को मुहैया करवाना।
  • विकलांग व्यक्तियों के लिए विकलांगता प्रमाण पत्र, बस पास और अन्य रियायत एवं सुविधाएँ उपलब्ध करवाना।
  • सरकारी एवं धर्मार्थ संस्थाओं के माध्यम से चिकित्सा सबंधी व्यवस्था उपलब्ध करवाना।
  • स्वरोजगार हेतु बैंक एवं अन्य वित्तीय संस्थाओं के माध्यम से ऋण (लोन) की व्यवस्था करना।
  • विकलांग व्यक्तियों के माता – पिता एवं परिवार के सदस्यों को सलाह देना।
  • विकलांग व्यक्तियों के लिए शिक्षा, व्यवसायिक प्रशिक्षण हेतु सेवाएं प्रदान करना।
  • विकलांग व्यक्तियों उनके लिए सुरक्षा संबंधी उपकरणों को उपलब्ध करवाना है।

दीनदयाल उपाध्याय विकलांग पुनर्वास योजना के कार्य

  • विकलांग व्यक्तियों और उनकी आवश्यकताओं का सर्वेक्षण करना।
  • विकलांगो के लिए चिकित्सा शिविर लगाना।
  • विकलांग व्यक्तियों के आंकड़े को एकत्रित करना।
  • विकलांग व्यक्तियों को जिन्हे सहायक उपरकण उपलब्ध करवाए गए हैं, उनकी मुरम्मत और जाँच करना।
  • सहायक उपकरणों के उपयोग और उपचारात्मक सेवाओं के संबंध में विकलांग व्यक्तियों को
    प्रशिक्षित करना।

केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना क्लिक here

Add Comment