प्रधानमंत्री आवास योजना | Pradhanmantri Awas Yojana in Hindi

प्रस्तावना: प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Avas Yojana) का मूल उद्देश्य गरीब और वंचित वर्ग के मकान का सपना पूरा करना है। घर यानि आवास के बिना मनुष्य की जिंदगी हमेशा  इसी संघर्ष में गुजर जाती है कि एक न एक दिन अपना भी एक घर होगा। लेकिन आजकल के समय में एक सामान्य आदमी के लिए शहरों में घर खरीदने का सपना चाँद को छूने जैसा है। भारत के शहरों में 20 मिलियन यानि 2 करोड़ से भी अधिक आबादी झोपड़ी व सड़क किनारे रहने वालो की 34 प्रतिशत की वृद्धि होती है। प्रधानमंत्री आवास योजना की घोषणा 25 जून 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने की थी। प्रधानमंत्री जी ने नववर्ष की पूर्व संध्या पर देश का संबोधन करते हुए, प्रधानमंत्री आवास योजना को विस्तारित किया। जिसने देश के गरीब वर्ग को बड़ी राहत दी है। इस योजना के अंतर्गत घर बनाने के लिए दिए गए, ऋण में राहत के साथ-साथ घर का निर्माण करवाने वाले लोगों को भी इस योजना में शामिल किया गया है। इस योजना के अनुसार ग्रामीणो के साथ-साथ शहरों के लोगों का भी पूरा ध्यान रखा गया है। इस योजना का लक्ष्य 2022 तक सबको सस्ती दरों पर अपना आवास उपलब्ध करवाना है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के मुख्य बिंदु/उद्देश्य
  • इस योजना के तहत 9 लाख रुपए के ऋण पर 4 प्रतिशत ब्याज की छूट और 12 लाख तक के ऋण पर 3 प्रतिशत की छूट दी गई है।
  • इस योजना के अनुसार होम लोन पर ली जा रही ब्याज दरों में कटौती का लाभ सभी वर्गों के लिए है।
  • इस योजना के अंतर्गत जो लोग ग्रामीण इलाको में अपने मकान को बढ़ाने के लिए निर्माण करना चाहते हैं या फिर मुरम्मत करवाना चाहते हैं, उनको अब इस योजना के तहत 2 लाख रुपए तक के लोन लेने पर दिए जाने वाले ब्याज में 3 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।
  • इस योजना का मूल उद्देश्य गरीब और वंचित वर्ग के मकान का सपना पूरा करना है, क्योंकि मकान बनाना इतना ज्यादा महंगा हो गया है कि आम आदमी अपनी मौजूदा आय से इस सपने को साकार नई कर सकता।
पी एम आवास योजना योजना का लक्ष्य
  1. पहला चरण :- प्रधानमंत्री आवास योजना का पहला चरण 2015 से शुरू होकर मार्च 2017 तक चला। इस चरण में लगभग 100 शहरों को विकसित बनाने की योजना है।
  2. दूसरा चरण :- इसके बाद दूसरे चरण को अप्रैल 2017 से शुरू किया गया और मार्च 2019 तक चलाया जाएगा। इस चरण में 200 से अधिक शहरों को विकसित करने की योजना है।
  3. तीसरा चरण :- यह चरण अप्रैल 2019 से 2022 तक चलेगा और इस चरण के अंतर्गत जितने भी शहर बचे हुए हैं, उनको विकसित किया जाएगा।
प्राथमिकता PM Avas Yojna

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निम्नलिखित लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी:-

  • महिलाएं (किसी भी समुदाय व जाति से संबंधित हो)
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग
  • अनुसूचित जाति
  • अनुसूचित जनजाति
सब्सिडी PM Awas Yojana

उपर्युक्त में से सबंधित सभी को भारत सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी। जो एक लाख रुपए से 2. 5 लाख रुपए तक की है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लाभार्थी को दिए जाने वाले लाभ
  • आर्थिक रूप से कमजोर और निम्न आय वाले वर्गों को इस योजना के तहत भारत सरकार द्वारा ब्याज दर पर लगभग5 प्रतिशत तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। यह सब्सिडी अधिक से अधिक 15 वर्षों के लिए दी जाएगी। यह सब्सिडी केवल 6 लाख तक के ही ऋण पर वैध होगी।
  • नए घर बनाने के आलावा यदि आप अपने घर में एक कमरा और बना रहे हैं, किचन बना रहे हैं या फिर टॉयलेट तब भी5 प्रतिशत सब्सिडी वैध होगी।
  • विकलांगों/दिव्यांगों या बुजुर्गों को ग्राउंड फ्लोर देने के लिए प्राथमिकता दी जाएगी। जिससे उनको ऊपर चढ़ना या उतरना न पड़े।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बनाये जाने वाले आवास हर तकनीकी से परिपूर्ण होंगे।
  • इस योजना के तहत घर की वयस्क महिला सद्स्यों को प्रमुखता दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत सभी लाभार्थियों को भारत सरकार की ओर लगभग एक लाख रुपए की सहायता प्रदान की जाएगी।
प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए पात्रता/योग्यता
  • इस योजना के लिए आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग और अलप आय समूह में आने वाले लोग ही पात्र होंगे। जिनकी वार्षिक आय 3 लाख से अधिक नहीं हैं।
  • इसी तरह अलप आय समूह में वही परिवार पात्र होंगे। जिनकी वार्षिक आय उसे 6 लाख के बीच होगी।
  • अपनी आय प्रमाणित करने के लिए व्यक्ति को सरकारी दफ्तर के चक्कर न काटने पड़ें, इसके लिए उन्हें अपनी आय से सबंधित हल्फनामा प्रस्तुत करना होगा।
  • महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए आवेदन केवल परिवार की महिला के नाम से ही किया जा सकेगा।
  • आवेदन करने वाले की आयु कम से कम 21 वर्ष और अधिकतम 55 वर्ष तक होनी चाहिए। इससे कम या ज्यादा वाला व्यक्ति इस योजना का लाभ नहीं उठा सकता।
  • अगर आप इन सभी शर्तों को पूरा करते हैं, लेकिन आपके घर में किसी भी सद्स्य के नाम पर कोई पक्का मकान है तो भी आप इस योजना में आवेदन करने में असमर्थ होंगे।
प्रधानमंत्री आवास योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया
  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए पहले Pmaymis.gov.in पर जाएं।
  • वेबसाइट पर जाकर “Citizen Assessment” के लिंक पर जाकर किसी एक विकल्प को चुनें।
  • आर आप अभी किसी स्लम (गन्दी बस्ती) में रहते हैं, तो “For Slum Dweller” पर क्लिक करें।
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपको अपना आधार नम्बर भरना है।
  • यदि आपका आधार नंबर सही है, तो आपका फॉर्म खुल जाएगा।
  • उस पर जानकारी भरने के बाद आपको नीचे दिए गए “Submit” पर क्लिक करना होगा।
  • “Submit” करने के बाद आप आवेदन का क्रमांक प्रिंट कर सकते हैं। भविष्य में आप अपने आवेदन की स्थिति पता कर सकें।

Add Comment