PAN CARD पैन कार्ड के अनेक फायदे

पैन कार्ड से लाभ एवं पैन कार्ड की आवश्यकता :

  1. प्रत्येक ब्यक्ति जिनको आयकर रिटर्न भरने की जरत हो उनके पास पैन कार्ड होना जरूरी है।
  2. कोई भी व्यक्ति, जिसे किसी भी प्रकार के वित्तीय लेनदेन की जरुरत हो एवं जहां पैन लिखना आवश्यक हो उसे पैन कार्ड रखना अनिवार्य है।
  3. आम लोगों में यह विश्वास है कि जब वो आयकर के दायरे में आयेंगे तभी पैन कार्ड की जरुरत पड़ती है यह सोच निहायत बेबुनियाद है।
  4. यदि कोई ब्यक्ति कुछ भी नहीं करता तो भी उसके पास पैन कार्ड होना चाहिए क्यों की इसके अनेक फायदें हैं।
  5. घरेलू कामकाजी महिलाओं के पास भे पैन कार्ड होना चाहिए, क्यों की यदि कभी वे किसी भी प्रकार का सरकारी या प्राइवेट विजनेस करना चाहती हैं तो उन्हें पैन कार्ड की आवश्यकता पड़ेगी।
  6. आजकल हर क्षेत्र में पैन कार्ड की आवश्यकता पहचान पत्र के रूप में स्वीकार की जाती है।
  7. यदि आप अपने बैंक कहते में अर्जित धन जमा करते हैं, उसमें भी पैन नंबर  अंकित करने से फायदा रहता है।
  8. स्थायी खाता संख्या (पैन नंबर) देने से आपका धन आयकर विभाग की नजर में सुरक्षित रहता है।
  9. पैन कार्ड का उपयोग बैंक में खाता खुलवाने, पासपोर्ट बनवाने, ट्रेन में ई-टिकट के साथ यात्रा करते समय पहचान पत्र के रूप में प्रयोग किया जा सकता है।
  10. पैन कार्ड का उपयोग टीडीएस (टैक्स डिडक्शन एट सोर्स) जमा करने व वापस पाने के लिए किया जाता है।
  11. पैन कार्ड शेयरों की खरीद-बिक्री हेतु डीमैट खाता खुलवाने के लिए आवश्यक है।

पैन कार्ड क्या है ?

एक लैमिनेटेड कार्ड के रूप आयकर विभाग द्वारा  जारी, दस अक्षर एवम अंको की मिलीजुली संख्या, जिसे स्थायी खाता संख्या या पर्मानेंट अकाउंट नंबर (पैन) कहा जाता है।  पैन कार्ड में लिखे नम्बर जैसे  ABOPY7869H.  को पैन नंबर कहा जाता हैं। सूचना प्रौद्योगिकी के आभाव में देश के वे नागरिक जो पिछड़े इलाकों में रहते हैं अथवा कम पढ़े लिखे शहरी भी पैन कार्ड की आवश्यकता एवं इसके लाभ से अंजान हैं बहुत से सारे लोगों को यह भी पता नहीं है की पैन कार्ड होता क्या है ? आइये पैन कार्ड की आवश्यकता, विशेषता एवं लाभ के बारे में जानकारी  प्राप्त करते हैं। आयकर संबंधी पत्राचार एवं आयकर रिपोर्ट भरने में के लिए पैन लिखना अनिवार्य है।  यदि आप अपने  बैंक कहते में अर्जित धन जमा करते हैं, उसमें भी पैन नंबर  अंकित करने से फायदा रहता है।  स्थायी खाता संख्या (पैन नंबर) देने से आपका धन आयकर विभाग की नजर में सुरक्षित रहता है एवं किसी भी परेसानी से बच सकते हैं।

पैन कार्ड प्राप्त करने की पात्रता

कोई भी व्यक्ति, फर्म या संयुक्त उपक्रम पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है। इसके लिए कोई न्यूनतम अथवा अधिकतम उम्र सीमा नहीं है।

7 Comments

  1. Vijay kumar
  2. Vijay kumar
  3. ajay yadav
  4. rakesh kumsr
  5. Rahul kumar
    • Rahul kumar
  6. Ruhul choudhury

Add Comment