गुलशन यादव की जीवनी | जीवन परिचय बायोडाटा गुलशन यादव

 

गुलशन यादव जीवन परिचय: गुलशन यादव का जन्म एक गरीब परिवार में हुआ है। गुलशन यादव की जाति अहीर और धर्म हिन्दू है। गरीबी के कारण गुलशन यादव की अच्छी पढ़ाई नहीं हो पायी और बचपन से ही जीविका चलाने के लिए दोनों भाई गुलशन यादव और उनके छोटे भाई छविनाथ यादव ने बहुत कम उम्र में परिवार की जीविका चलाने के लिए खेत खलिहान, पशु पालन में माता, पिता और परिवार की मदद करना शुरू कर दिया था।

गुलशन यादव की जीवनी: गुलशन यादव का जन्म, जीवन परिचय, चरित्र चित्रण, जीवनी, निबंध, बाल्यकाल, यौनावस्था, प्रेम, विवाह, राजनीति क्षेत्र में गुलशन यादव का योगदान, दबंग पूर्व चेयरमैन गुलशन यादव के बारे में सम्पूर्ण जानकारी।

गुलसन यादव का राजनीतिक सफर

गुलशन यादव की जीवनी-चरित्र चित्रण
गुलशन यादव का जन्म25 अगस्त 1980
जन्म स्थान गांव करेटी, कुंडा प्रतापगढ़
गुलशन यादव के माता का नाम श्रीमती शशि प्रभा यादव
गुलशन यादव के पिता का नाम श्री सुंदर लाल यादव
गुलशन यादव के भाई का नाम छविनाथ यादव
गुलशन यादव के पत्नी का नाम सीमा यादव
सीमा यादववर्तमान चेयरमैन कुंडा
गुलशन यादव का जाति/धर्मअहीर / हिंदू
गुलशन यादव का जन्म स्थानमऊदारा, कुंडा
गुलशन यादव का व्यवसाय समाजवादी पार्टी राजनेता
गुलशन यादव किस दल के नेता हैं?समाजवादी पार्टी
गुलशन यादव की शैक्षणिक योग्यता10th
कौन हैं गुलशन यादवगुलशन यादव कुंडा प्रतापगढ़ के राजनेता हैं

विचारधारा: गुलशन यादव समाजवादी विचारधारा के नेता हैं जो कि जाती पाँति धर्म के भेद भाव से परे हैं।

गुलशन यादव कौन हैं?

गुलशन यादव प्रतापगढ़ के बाहुबली राजनेता हैं। गुलशन यादव का जन्म 25 अगस्त 1980 को उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के तहसील कुंडा ग्राम मऊदारा में हुआ है।

गुलशन यादव के माता-पिता कौन हैं ?

गुलशन यादव के पिता का नाम सुंदर लाल यादव है। गुलशन यादव की माता का नाम श्रीमती शशि प्रभा यादव है। गुलशन यादव के माता-पिता बहुत गरीब थे। गुलशन यादव एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

कौन हैं गुलशन यादव के भाई?

गुलशन यादव दो भाई हैं। मध्य शिक्षा अवधि के दौरान, गुलशन और छबीनाथ दोनों भाइयों को 2002 में बसपा सरकार के दौरान तानाशाही के कारण सलाखों के पीछे डाल दिया गया था। गुलशन यादव के भाई छबीनाथ नाबालिग थे इसलिए उन्हें जल्द ही जमानत मिल गई। गुलशन के भाई छविनाथ यादव समाजवादी पार्टी के प्रतापगढ़ के जिला अध्यक्ष  हैं।

मऊदारा ग्राम के प्रधान गुलशन यादव

सपा सरकार में जेल से बाहर आने के बाद गुलशन यादव विधायक राजा भैया के करीबी हो गए थे। यहीं से गुलशन यादव ने राजनीति में कदम रखा और पहली बार मऊदारा के ग्राम प्रधान बने, तब से इस ग्राम सभा पर उनके ही परिवार का कब्जा है। प्रधान बनने के बाद गुलशन यादव ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। वह आगे और आगे बढ़ता रहा।

गुलशन यादव ने किया मऊदारा गांव का विकास

गांव की दुर्दशा को देखकर गुलशन यादव ने विकास के रास्ते पर चलकर मौदरा गांव का विकास किया। इस तरह उन्होंने लोगों के दिलों में एक ऐसी जगह बना ली कि हर कोई उन्हें बहुत प्यार करने लगा। गुलशन यादव को कुछ लोगों की तानाशाही ने प्रताड़ित भी किया था। लेकिन गुलशन यादव ने कभी हार नहीं मानी।

कुंडा के चेयरमैन गुलशन यादव

गुलशन यादव ने प्रधान बनने के बाद सियासत में मुड़कर नहीं देखा। और वो 2011 में कुंडा के पंचायत का चेयरमैन बनने में कामयाब रहे। 2012 में वे कुंडा नगर पंचायत के अध्यक्ष चुने गए। गुलशन यादव ने कुंडा को स्वच्छ, सुंदर और विकसित बनाया। गुलशन यादव को 2014 में फिर से एक फर्जी मामले में फंसाकर जेल भेज दिया गया था। लेकिन पहाड़ से ऊंची आत्मा को कौन तोड़ पाया है? जो वास्तव में यदुकुल अभिमान हैं, भगवान श्रीकृष्ण की कृपा पाने वाले को कोई नहीं बिगाड़ पाएगा। साजिशें होती रहीं और गुलशन खिलते रहे।

कुंडा के चेयरमैन पद पर गुलशन भईया की पत्नी

2017 में जेल में रहते हुए भाई छविनाथ यादव के नेतृत्व में अपनी पत्नी सीमा यादव को कुंडा नगर पंचायत का अध्यक्ष बनाकर नया कीर्तिमान स्थापित किया। 2021 में एक बार फिर गुलशन यादव ने अपनी मां शशि प्रभा यादव और छोटे भाई छवि नाथ यादव की पत्नी प्रियंका यादव को पंचायत चुनाव में जीत दिलाई।

पुलिस डीएसपी जियाउल हक की हत्या

सपा सरकार में पुलिस डीएसपी जियाउल हक की हत्या के मामले में राजा भैया के साथ गुलशन यादव का भी नाम आया था। इसके बाद कुंडा में राजा के करीबी पुष्पेंद्र सिंह पर जानलेवा हमले के मामले में गुलशन यादव को गिरफ्तार किया गया था और इसी मामले में पिछले 4 साल तक जेल में बंद रहे, हालांकि बाद में सीबीआई ने उन्हें क्लीन चिट दे दी थी। और गुलशन भईया “जेल के ताले टूट गए गुलशन भइआ छूट गए” जैसे नारों की आवाज के साथ बाहर आये।

रघु राज प्रताप सिंह (राजा भैया का) दाहिना हाथ गुलशन भैया

गुलशन यादव राजा भैया के बहुत अच्छे दोस्त थे। गुलशन यादव के साथ राजा भैया पर भी डीएसपी जिया-उल-हक की हत्या का आरोप लगा था । एक समय गुलशन यादव रघुराज प्रताप सिंह के लिए ही काम करते थे लेकिन अब गुलशन यादव राजा भईया के साथ नहीं हैं। समाजवादी पार्टी ने रघुराज प्रताप सिंह के खिलाफ गुलशन यादव को मैदान में उतारा है।

राजा को चुनौती देने उतरे हैं मैदान पर गुलशन यादव

कुंडा विधानसभा में राजा का वर्चस्व कायम रहा है। बाहुबली राजा भैया उर्फ रघुराज प्रताप सिंह एक बार फिर कुंडा विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन अब 20 साल बाद उनका इकलौता करीबी दोस्त उनसे मुकाबला करने के लिए मैदान में कूद पड़ा है। कुंडा विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी ने गुलशन यादव को राजा भैया के खिलाफ चुनावी मैदान में उतारा है। गुलशन यादव समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं और कुंडा के भावी विधायक हैं।

गुलशन यादव का इतिहास: आपराधिक पृष्टभूमि के गुलशन यादव को कई मामलों में अनेक बार जेल जाना पड़ा है। लेकिन उन्हें हर बार न्यायालय से क्लीन चिट मिली है वर्तमान में उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है।

सपा ने कुंडा विधानसभा सीट से गुलशन यादव को मैदान में उतारा है।

जमीनी स्तर के नेता गुलसन यादव की जीत विधान सभा चुनाव में होगी?

गुलशन यादव का जन्म, जीवन परिचय, चरित्र चित्रण, बाल्यकाल, यौनावस्था, प्रेम, विवाह, राजनीति

सूचना: पाठकों से अनुरोध है कि गुलशन यादव एवं छविनाथ यादव संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी को लेख में लिखने के लिए नीचे कमेंट बॉक्स में अवस्य लिखें, धन्यवाद।  

 गुलशन यादव के बारे में जानकारी / प्रश्न और उत्तर

कौन हैं गुलशन यादव?

गुलशन यादव राजनीतिज्ञ सामाजिक कार्यकर्ता और कुंडा प्रतापगढ़ के बाहुबली नेता हैं।

गुलशन यादव की जन्म तिथि क्या है?

गुलशन यादव की जन्मतिथि 25 अगस्त 1980 है।

गुलशन यादव का जन्म स्थान कहाँ है?

गुलशन यादव का जन्म 25 अगस्त 1980 को उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के तहसील कुंडा ग्राम मऊदारा में हुआ ।

गुलशन यादव के पिता कौन हैं?

गुलशन यादव के पिता सुंदर लाल यादव हैं।

गुलशन यादव की मां कौन हैं?

गुलशन यादव की माता श्रीमती शशि प्रभा यादव हैं।

गुलशन यादव के भाई कौन हैं?

गुलशन यादव के भाई छवि नाथ यादव हैं।

रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) का सबसे अच्छा दोस्त और दाहिना हाथ कौन था?.

कुंडा के पूर्व अध्यक्ष गुलशन यादव रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) के सबसे अच्छे दोस्त थे।

गुलशन यादव की पत्नी का क्या नाम है?

गुलशन यादव की पत्नी का नाम सीमा यादव है जो कुंडा की चेयरपर्सन हैं.

गुलशन यादव की शैक्षणिक योग्यता क्या है?

गुलशन यादव की शैक्षणिक योग्यता केकेएमपी पास है।

गुलशन यादव किस पार्टी के नेता हैं?

गुलशन यादव समाजवादी पार्टी नेता हैं।

क्या है गुलशन यादव का व्यवसाय?

गुलशन यादव किसान, समाजसेवी, समाजवादी राजनेता हैं।

गुलशन यादव का जन्म दिन कब है?

2 Comments

  1. Anonymous
    • S. N. Yadav

Add Comment