केशव प्रसाद मौर्य बायोडाटा जीवनी, जीवन परिचय MLA Sirathu KP Maurya DY CM

केशव प्रसाद मौर्य जीवन परिचय: केशव प्रसाद मौर्य का जन्म कौशाम्बी जिले के सिराथू में एक मौर्य परिवार में हुआ था। केशव प्रसाद की जाति मौर्य और धर्म हिंदू है। केशव प्रसाद मौर्य बेहद गरीब परिवार से हैं। गरीबी के कारण केशव प्रसाद मौर्य बचपन में चाय और अखबार बेचते थे। वह खेती के काम में अपने माता-पिता की मदद करते थे।

केशव प्रसाद मौर्य की जीवनी: केशव प्रसाद मौर्य का जन्म, जीवन परिचय, चरित्र चित्रण, जीवनी, निबंध, बाल्यकाल, यौनावस्था, प्रेम, विवाह, राजनीति क्षेत्र में केशव प्रसाद मौर्य का योगदान, उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के बारे में सम्पूर्ण जानकारी।

MLA Sirathu KP Maurya DY CM केशव प्रसाद मौर्य का राजनीतिक सफर

केशव प्रसाद मौर्य की जीवनी-चरित्र चित्रण
केशव प्रसाद मौर्य का जन्म07 मई 1969
केशव प्रसाद मौर्य जन्म स्थान सिराथु, जिला कौशाम्बी(उत्तर प्रदेश)
केशव प्रसाद मौर्य की माता का नाम श्रीमती धनपति देवी मौर्य
केशव प्रसाद मौर्य के पिता का नाम श्री श्याम लाल मौर्य
केशव प्रसाद मौर्य के पत्नी का नाम राज कुमारी देवी मौर्य
केशव प्रसाद मौर्य के संतान 2 पुत्र
केशव प्रसाद मौर्य का जाति/धर्ममौर्य/हिंदू
केशव प्रसाद मौर्य का व्यवसाय भारतीय जनता पार्टी राजनेता
केशव प्रसाद मौर्य किस दल के नेता हैं?भारतीय जनता पार्टी
केशव प्रसाद मौर्य की शैक्षणिक योग्यतास्नातक
कौन हैं केशव प्रसाद मौर्यकेशव प्रसाद मौर्य उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री हैं। वे यूपी विधान परिषद के सदस्‍य हैं।
केशव प्रसाद मौर्य का स्थाई पताग्राम और पोस्ट ऑफिस - कसिया, तहसील- सिराथु, जनपद- कौशाम्बी,10/2 अल्कापुरी कॉलोनी, न्याय मार्ग, अलाहाबाद-211001
केशव प्रसाद मौर्य का वर्तमान पता801, नर्मदा अपार्टमेंट, डॉ. बी.डी मार्ग, नई दिल्ली-110 001
केशव प्रसाद मौर्य का सम्‍पर्क नंबर 0532-2421754, 9415235082
केशव प्रसाद मौर्य का ई-मेल [email protected]

विचारधारा: उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री बने केशव प्रसाद मौर्य जाती पाँति धर्म के भेद भाव से परे हैं। केशव प्रसाद मौर्य भारतीय जनता पार्टी से सम्बंधित हैं।

केशव प्रसाद मौर्य कौन हैं ?

केशव प्रसाद मौर्य उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री हैं। साथ ही वे यूपी विधान परिषद के सदस्‍य हैं। केशव प्रसाद मौर्य का जन्म 7 मई 1969 में इलाहाबाद के कौशाम्बी जिले के एक छोटे से गाँव सिराथू में एक किसान परिवार में हुआ था।

केशव प्रसाद मौर्य के माता पिता

केशव प्रसाद मौर्य के पिता का नाम श्री श्याम लाल मौर्य है। केशव प्रसाद मौर्य की माता का नाम श्रीमती धनपति देवी मौर्य है। केशव प्रसाद मौर्य के माता-पिता बहुत गरीब थे। केशव प्रसाद मौर्य एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

केशव प्रसाद मौर्य की शिक्षा

केशव प्रसाद मौर्य ने हिंदू साहित्य सम्मेलन, इलाहाबाद से हिंदी साहित्य में स्नातक तक की पढ़ाई की है। वर्ष 1997 में केशव प्रसाद मौर्य इलाहबाद विश्वविद्यालय से हिन्दी साहित्य विषय से बीए किया।

केशव प्रसाद मौर्य का निजी जीवन

केशव प्रसाद मौर्य हिंदू धर्म के मौर्य समुदाय से हैं। मौर्य जी के पिता एक किसान थे और बहुत गरीब थे। केशव प्रसाद मौर्य की पत्नी का नाम राज कुमारी देवी मौर्य है और और उनके दो बेटे हैं। उन्होंने राजनीति के साथ-साथ अपना कारोबार भी किया है। और वह जीवन ज्योति क्लिनिक और अस्पताल के निदेशक और पार्टनर हैं।

 केशव प्रसाद मौर्य भगवान शिव के बहुत बड़े भक्त हैं और वह नियमित रूप से भगवान शिव का पूजा-पाठ करते हैं।

केशव प्रसाद मौर्य की पत्नी

केशव प्रसाद मौर्य की पत्नी का नाम राज कुमारी देवी मौर्य है और और उनके दो बेटे हैं।

केशव प्रसाद मौर्य का राजनीतिक जीवन

  • इलाहाबाद पश्चिमी विधानसभा सीट से केशव प्रसाद जी के राजनीतिक जीवन की शुरुआत हुई। उन्होंने 2002 में स्थानीय माफिया अतीक अहमद के खिलाफ भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़े थे। हालांकि वह सात हजार वोट पाकर चौथे नंबर पर आए, फिर उसी सीट से 2007 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़े, लेकिन सफलता नहीं मिली।
  • 2014 के संसदीय चुनावों में, वह भाजपा के लिए संसद सदस्य बने।
  • 8 अप्रैल 2016 को चैत्र के पहले दिन केशव को उत्तर प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष घोषित किया गया।
  • चुनाव परिणाम आने के बाद उन्हें मुख्यमंत्री पद का दावेदार माना जा रहा था लेकिन उन्हें उपमुख्यमंत्री बनाया गया।
  • राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संपर्क में आने के बाद वे लगभग 18 वर्षों तक विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और भाजपा में प्रचारक रहे हैं।
  • केशव प्रसाद मौर्य ने 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री की शपथ ली।

केशव प्रसाद श्रीराम जन्म भूमि और गोरक्षा के लिए आन्दोलन में हिस्सा

23 जनवरी 2021 को केशव प्रसाद मौर्य ने अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण हेतु स्वामी वासुदेवानंद के आश्रम में आयोजित श्री राम जन्म भूमि समर्पण निधि आयोजन में अपने 30 माह के वेतन का चेक सहयोग के रूप में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय और ट्रस्ट के सदस्य स्वामी वासुदेवानंद को 11 लाख रुपये का चेक भेंट किया।  केशव प्रसाद मौर्य ने श्री राम जन्मभूमि और गोरक्षा और हिंदू हित के लिए कई आंदोलन किए और इसके लिए जेल भी गए। इलाहाबाद को स्मार्ट सिटी के रूप में जो उपहार मिला, उसमें भी केशव प्रसाद मौर्य ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाया है।

विवादों में केशव प्रसाद मौर्य

  • लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे से साफ था कि उन पर दस गंभीर आरोप हैं। जिसमें धारा 302 (हत्या का मामला), धारा 153 (दंगा भड़काने का मामला) और धारा 420 (धोखाधड़ी का मामला) जैसे आरोप शामिल हैं।
  • साल 2011 में उनका नाम मोहम्मद गौस हत्याकांड में शामिल किया गया था, जिसके चलते उन्हें जेल जाना पड़ा था। हालांकि इस मामले में उन्हें बरी कर दिया गया है। 21 मई 2015 में इन्हें बरी कर दिया गया। और मृतक किसान के बड़े भाई ने कहा कि वो अब इस केस को बंद कर देना चाहते हैं।
  • 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने हलफनामे में दस लंबित मामलों का जिक्र किया था। मौर्य के मुताबिक ये सारे मामले उनके प्रतिद्वंद्वियों ने उनसे राजनीतिक दुश्मनी दूर करने के लिए दर्ज कराए हैं। इन मामलों में उसके खिलाफ दंगा भड़काने, अपराध से संबंधित साजिश रचने, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने आदि के मामले दर्ज हैं।
  • केशव प्रसाद मौर्य के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे के मुताबिक उनके खिलाफ दस गंभीर आरोप हैं।

Add Comment